"अहमदाबाद के मैदान में है भुत है.." भारत और पाकिस्तान के बीच अहमदाबाद के मैदान में होगा मुकाबला तो उस मैदान को शाहिद अफरीदी ने बताया मैदान को भुतिया

“अहमदाबाद के मैदान में है भुत है..” भारत और पाकिस्तान के बीच अहमदाबाद के मैदान में होगा मुकाबला तो उस मैदान को शाहिद अफरीदी ने बताया मैदान को भुतिया

आईसीसी विश्वकप 2023 का आयोजन की अभी तैयारी जोड़ो-शोरो से हो रही है। भारत 2011 के बाद पहली बार विश्वकप को होस्ट करने जा रहा है और इसी कारण सभी फैन्स को काफी ज्यादा उम्मीदे भी है। आपकी जानकारी के लिए बता दे कि जब भारत ने 2011 में आईसीसी में विश्वकप होस्ट किया था तब भारत ने 28 साल बाद खिताब जीता था। इस जीत की सभी ने जमकर जश्न मनाया था।

आपकी जानकारी के लिए बता दे की इस बार भी सभी को उम्मीद है की भारतीय टीम घरेलु मैदान में खेलते हुए भारत को तीसरी बार विश्वविजेता बना देगी। हालाँकि अभी इस विह्वकप को लेकर पूरा आधिकारिक शेड्यूल सामने नहीं आया है लेकिन काफी सारे सूत्रों के अनुसार मुकाबलों की तारीख पक्की कर दी गई है।

पाकिस्तान अहमदाबाद में खेलने को तैयार नहीं :

भारत और पाकिस्तान के मुकाबले के लिए सभी फैन्स काफी ज्यादा उत्सुक रहते है क्यूंकि दोनों ही टीम आईसीसी जैसे बड़े इवेंट में ही आमने-सामने आती है। इसी कारण ये मुकाबला दुनिया के सबसे बड़े मैदान यानी की नरेंद्र मोदी मैदान में करवाया जा रहा है क्यूंकि इस मुकाबले को देखने के लिए कुल 1 लाख लोग आ पायेंगे।

हालाँकि खबरों के अनुसार पाकिस्तान की टीम अहमदाबाद के मैदान में मुकाबला खेलने के लिए तैयार नही है और वो चाह रहे है की ये मुकाबला अहमदाबाद में न हो कर कही और कराया जाए जहाँ इसके बाद पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शहीद अफरीदी (Shahid Afridi) ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड पर ही काफी निराशाजनक बात कही है।

शहीद अफरीदी पीसीबी पर भड़के :

शाहिद अफरीदी (Shahid Afridi) ने पाकिस्तानी टीम पर नाराज़गी जताई है जहाँ उन्होंने बोला है कि पाकिस्तान क्रिकेट टीम क्यूँ अहमदाबाद में खेलने से डर रहा है। उन्होंने अपने बयान में कहा कि “आखिर पीसीबी नरेंद्र मोदी स्टेडियम की पिच पर खेलने से क्यों मना कर रहे हैं. क्या वहां की पिच भूतिया है या आग आती है वहां पर?

Share:

Leave a Comment

Priyanshu Kumar

Priyanshu Kumar, a seasoned cricket author, brings five years of experience, delivering captivating insights and engaging narratives to cricket enthusiasts.