9 साल की उम्र में उठाया बल्ला.. ग्रेजुएशन के बाद बनी स्टार क्रिकेटर, जानिए Smriti Mandhana के भाई- बहन परिवार के बारे में

Smriti Mandhana, भारतीय महिला क्रिकेट टीम की स्टार ओपनर बल्लेबाज अपनी तूफानी बल्लेबाजी के लिए जानी जाती है. इन्होने अभी तक भारतीय महिला क्रिकेट टीम के लिए कई यादगार पारियाँ खेली है और अपने दम पर टीम इण्डिया को जीत दिलाई है. इन दिनों भी Smriti Mandhana क्रिकेट में खूब धूम मचा रही है. इसी के चलते आज हम आपको Smriti Mandhana के परिवार और इनकी सफलता की कहानी आपको बताने वाले है.

सबसे पहले आपको बता दे की Smriti Mandhana मुंबई की रहने वाली है. इनका जन्म 18 जुलाई 1996 में पिता श्रीनिवास मधाना और माता स्मिता मंधाना के यहाँ हुआ था. इनके परिवार में इनका एक भाई भी है जिसका नाम श्रवन मंधाना है. श्रवन मंधाना भी पेशे से एक क्रिकेटर है. लेकिन वो इतना सफल नहीं हो पाया जीतना की स्मृति मंधाना हुई.

बता दे की स्मृति मंधाना के पिता श्रीनिवास भी एक क्रिकेटर रह चुके है. ऐसे में शुरुआत से इनके घर क्रिकेट का माहौल था जिस वजह से स्मृति मंधाना को भी क्रिकेट से प्यार हुआ और स्मृति मंधाना आज भारतीय क्रिकेट टीम की स्टार बल्लेबाज बन गई है.

बताया जाता है की जब स्मृति मंधाना केवल 2 साल की थी तब इनके पिता पुरे परिवार के साथ सांगली, माधवगर में सिफ्ट हो गया था. यही पर Smriti Mandhana की पढाई लिखाई हुई. Smriti Mandhana ने स्कूली पढ़ाई कम्पलीट करने के बाद मुम्बई के चिंतामनराव कॉलेज बंगाली महाराष्ट्र से ग्रेजुएशन की डिग्री भी हासिल की है.

वही, बात करे इनके क्रिकेट कैरियर की तो Smriti Mandhana क्रिकेट के तीनों फोर्मेट में खेल चुकी है. इन्होने साल 2013 में वनडे और टी -20 फोर्मेट के लिए भारतीय टीम में डेब्यू किया. इसके अगले साल टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू किया. Smriti Mandhana अब तक जहाँ वनडे और टी -20 फोर्मेट में क्रमशः 3073 और 2800 रन बना चुकी है तो वही टेस्ट में 127 के हाईएस्ट स्कोर के साथ 325 रन बना चुकी है. बता दे की Smriti Mandhana के वनडे में 5 शतक और टेस्ट में 1 शतक है. टी-20 में 87 रन का हाईएस्ट स्कोर है.

Share:
Kuldeep Singh

Kuldeep is an emerging talent in the field of cricket writing and he has been working for Cricket Reader as a Sub Editor and delivering news and opinion from the world of cricket.