RR के साथ हुई ना इंसाफी, SRH ने बेईमानी से जीता मैच, ट्रेविस हेड को नॉट आउट दिए जाने बबाल

आईपीएल 2024 के 50वें मुकाबले में सनराइजर्स हैदराबाद (Sunrisers Hyderabad) और राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) के बीच रोमांचक भिड़ंत देखने को मिली। हैदराबाद के कप्तान पैट कमिंस (Pat Cummins) ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का निर्णय लिया और टीम ने राजस्थान के सामने 202 रनों का चुनौतीपूर्ण लक्ष्य रखा। हालांकि, मैच के दौरान ट्रेविस हेड (Travis Head) के रन आउट पर विवाद खड़ा हो गया, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

विवादित रन आउट की घटना

सनराइजर्स हैदराबाद की पारी के 15वें ओवर में आवेश खान (Avesh Khan) गेंदबाजी कर रहे थे। ओवर की तीसरी गेंद पर ट्रेविस हेड क्रीज से बाहर निकलकर बड़ा शॉट खेलने का प्रयास करते हुए दिखाई दिए, लेकिन गेंद और बल्ले के बीच कोई संपर्क नहीं हुआ। गेंद सीधे विकेटकीपर संजू सैमसन (Sanju Samson) के पास पहुंची, जिन्होंने तुरंत स्ट्राइकर एंड पर थ्रो किया।

गेंद सीधे स्टंप्स पर लगी और मामला काफी करीबी था। इसलिए फील्ड अंपायर ने थर्ड अंपायर की मदद ली। रीप्ले देखने के बाद, थर्ड अंपायर ने ट्रेविस हेड को नॉट आउट करार दिया, जबकि रिप्ले में साफ दिख रहा था कि हेड का बल्ला हवा में था।

इरफान पठान और कुमार संगकारा की प्रतिक्रिया

कमेंट्री कर रहे पूर्व भारतीय क्रिकेटर इरफान पठान (Irfan Pathan) ने इस घटना की आलोचना करते हुए इसे थर्ड क्लास अंपायरिंग करार दिया। उन्होंने कहा कि अंपायर को आगे के फ्रेम भी देखने चाहिए थे। इसके अलावा, राजस्थान रॉयल्स के कोच कुमार संगकारा (Kumar Sangakkara) को मैदान के बाहर अंपायर से बहस करते हुए देखा गया, जो इस फैसले से नाखुश नजर आ रहे थे।

ट्रेविस हेड का प्रदर्शन

हालांकि, ट्रेविस हेड ज्यादा देर तक क्रीज पर नहीं टिक पाए और अगली ही गेंद पर आवेश खान ने उन्हें बोल्ड कर दिया। हेड ने अपनी पारी में 44 गेंदों पर 58 रन बनाए, जिसमें 6 चौके और 3 छक्के शामिल थे।इस विवादित रन आउट ने एक बार फिर अंपायरिंग पर सवाल खड़े कर दिए हैं। क्रिकेट प्रशंसकों और विशेषज्ञों का मानना है कि अंपायरों को ऐसे करीबी फैसलों में और अधिक सावधानी बरतनी चाहिए ताकि खेल की भावना बनी रहे।

I am associated with Cricket Reader as an Editor in Chief, since 2019. I have full dedication to write content on cricket analysis. I take care of all the news operations like content, budget, hiring and policy making.