“मैं खेलना चाहता था लेकिन…” वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जगह नहीं मिलने पर भड़के रवि अश्विन, कप्तान रोहित शर्मा पर दिया भड़काऊ बयान

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत को वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के दुसरे फाइनल में एक बार और करारी हार का सामना करना पडा है जहाँ इस हार के बाद भारतीय टीम की काफी ज्यादा आलोचना हो रही है। आपकी जानकरी के लिए बता दे कि इस हार के बाद टीम के सिलेक्शन पर भी काफी ज्यादा सवाल खड़े हो रहे थे।

इस फाइनल मुकाबले में कप्तान रोहित शर्मा ने 4 तेज़ गेंदबाज़ को खिलाने का फैसला किया था वही रविन्द्र जडेजा के रूप में टीम ने एक स्पिनर को खिलाया था। इसी कारण टीम को नंबर एक टेस्ट गेंदबाज़ रवि अश्विन (Ravi Ashwin) को बाहर करना पडा था जहाँ टीम ने उन्हें इस मुकाबले में काफी ज्यादा मिस किया था।

रवि अश्विन का बयान आया सामने :

इस मुकाबले में रवि अश्विन (Ravi Ashwin) के नहीं खिलाए जाने के बाद रोहित शर्मा की काफी ज्यादा आलोचना हो रही थी। ऑस्ट्रेलिया के तरफ से नाथेन लायन ने काफी अच्छी गेंदबाज़ी की थी और भारतीय टीम ने उन्हें इस मैच में काफी ज्यादा मिस किया था। इस मुकाबले के बाद सभी की अश्विन के बयान पर नजर थी।

वही अज रवि अश्विन (Ravi Ashwin) ने आज टीम में जगह नही मिलने पर बयान दिया है। उन्होंने अपने बयान में कहा कि “मैं इस मुकाबले में जरूर खेलना चाहता था क्योंकि अपनी टीम को यहां तक पहुंचाने में मेरा भी योगदान था, पिछले साल वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल के बाद मैंने अच्छी गेंदबाजी करते हुए 4 विकेट लिए थे। 2019 के बाद विदेशी मैदानों पर भी मेरा प्रदर्शन अच्छा रहा है और मैंने टीम के लिए कई शानदार मुकाबला जीता कर दिए हैं। मैं इसे कोच और कप्तान के नजरिए से समझने की कोशिश कर रहा हूं”।

उन्होंने आगे कहा “मुझे खुशी हुई कि उन्होंने सोचा कि मैं खेलने के लिए अच्छा हूं लेकिन सच्चाई यह है कि ना तो मुझे खेलने का मौका मिला और ना ही हमारे हक में विश्व खिताब आया। मुझे 48 घंटे पहले यह पता था कि मैं फाइनल नहीं खेलूंगा और इसीलिए मैंने यह सोच रखा था कि मैं टीम को खिताब दिलाने में हर तरीके से योगदान दूंगा क्योंकि मैंने यहां तक अपनी टीम को पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई है”।

Leave a Comment

Priyanshu Kumar, a seasoned cricket author, brings five years of experience, delivering captivating insights and engaging narratives to cricket enthusiasts.